Read in English

पुरस्कार किसी के मनोबल को बढ़ाने का एक शानदार तरीका है। यह एक व्यक्ति को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित करता है। इसी जज़्बे और लगन को प्रोत्साहित करते हुए राजस्थान रत्नाकर नामक एक समाज सेवी संगठन ने 21 जुलाई 2019 को अंबेडकर अंतर्राष्ट्रीय केंद्र, दिल्ली में अपने 44वें वार्षिक समारोह का आयोजन किया जिसमें भारत के साहित्य और लोक संस्कृति का मिश्रण देखा गया l इस कार्यक्रम में दिल्ली के लगभग 15-20 स्कूलों के कई छात्रों के साथ-साथ मंथन-संपूर्ण विकास केंद्र के दिल्ली स्थित शकूरपुर के 9 और रिठाला केंद्र के २ छात्रों को पुरस्कार और छात्रवृत्ति प्रदान की I

Esteemed Rajasthan Ratnakar distributed scholarship to meritorious students@Annual Day

कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्ज्वलन से हुई, जिसके बाद सम्मानित अतिथियों को सम्मानित किया l कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में P.P Chaudhary- Ex union minister , B.S.Brahmachari ji, Padamshree Shri Surender Sharma, Arvind Gupta, Rajender Gupta (Rajsthan Ratnakar chairman), Mr. Ramesh Jaina, Mukesh Gupta उपस्थित थे I बच्चों को विपरीत परिस्थितयों में भी शिक्षा के क्षेत्र में इस प्रकार प्रगति करने के लिए उन्हें यह छात्रवृत्ति प्रदान की गयी जिसमें प्रत्येक छात्र को 2000 रूपए, 5 उत्तरपुस्तिकाओं का एक सेट तथा एक रिफ्रेशमेंट बॉक्स दिया गया I छात्रवृत्ति का मुख्य उद्देश्य बच्चों को उनके प्रयासों के लिए बधाई देना तथा उन्हें आगे भी इसी प्रकार लगन और मेहनत के साथ आगे बढ़ते रहने के लिए प्रेरित करना था I

Esteemed Rajasthan Ratnakar distributed scholarship to meritorious students@Annual Day

कार्यक्रम के अंत में, रत्नाकर समाज की महिलाओं ने सभी भारतीय त्योहारों को एक साथ महत्व देते हुए नृत्य   प्रदर्शन किया।

Subscribe Newsletter

Subscribe below to receive our News & Events each month in your inbox