उत्साह एक जादुई फार्मूला !

'सेल! सेल! सेल! अब अपनी ज़िन्दगी के बैग में भरिए ढेरों खुशियाँ, जीतने के ढेरों अवसर और ढेरों संभावनाएँ! पाइए ज़्यादा मुनाफा और निकाल फेंकिए सारी टेंशन, सारे डर! ये सारे आकर्षण, साथ में और भी बहुत कुछ- पाइए बिल्कुल फ्री!'

फ्री!? हैरान हो गए न! लेकिन दोस्तों, यह कोई झूठ-मूठ का, मन को भरमाने वाला आफर नहीं, बल्कि एकदम सच्चा और असली आफर है। यकीन नहीं होता, तो चलिए इसे साबित भी कर लेते हैं। ध्यान से देखिए...आफर के सारे आकर्षण एक गुण में समेटे जा सकते हैं। और वो एक गुण है- उत्साह! अब, क्योंकि उत्साह पाने के लिए कोई पैसा खर्च नहीं करना पड़ता; इसलिए आप इन सभी आकर्षणों का मुफ्त में लाभ उठा सकते हैं..।

जैसे...

...उत्साह और जीत में सीधा-सीधा तालमेल है।     

...अगर हम अपने कार्य को पूरे जोश और जज़्बे के साथ अपनाते हैं और करते हैं, तो बदले में मिलने वाली खुशी के स्तर में भी उछाल आता है।

...उत्साह एक व्यक्ति की उपलब्धि में बहुत बड़ी भूमिका निभाता है।

...उत्साह-मुश्किलों के काँटों में भी सफलता के फूल खिलाए!

...उत्साह-एक संक्रामक गुण!

निस्संदेह इसे अपने जीवन में धारण कर हमारे जीवन को नई रूपरेखा प्रदान हो सकती है। ...परन्तु यहाँ एक अहम प्रश्न उठता है कि जिस उत्साह से हुमें इतने लाभ मिल सकते हैं, आखिर उस उत्साह को पैदा कैसे करें? कैसे उसे सदा कायम रखें? इन सभी गुत्थियों का समाधान, पूर्णतः जानने के लिए पढ़िये सितम्बर माह की हिन्दी अखण्ड ज्ञान मासिक पत्रिका!

Need to read such articles? Subscribe Today