Watch Shri Ram Katha, Patna, Bihar, Day-7 by Sadhvi Shreya BhartiWATCH NOW

दीवाली की शुभ-कामनाएँ कैसी हों?

आप सभी को ग्लोबल दीवाली की हार्दिक शुभकामनाएँ! बधाई देने का यह अंदाज़ कुछ नया लगा होगा आपको! इस बार हम आपके लिए दीवाली पर ऐसी एक नहीं, कई नई शुभकामनाएँ लाए हैं।...


सबसे पहले ग्लोबल दीवाली की बात करते हैं।... यह पर्व सिर्फ भारत में ही नहीं... नेपाल, ब्रिटेन, इंडोनेशिया, ... सिंगापुर, थाईलैंड आदि कई देशों में इस पर्व को उत्साह और उल्लास से मनाते हैं। ... सिंगापुर, फिजी इत्यादि कितने ही देशों में तो इस दिन राष्ट्रीय अवकाश रखा जाता है। इस दिन बहुत से देश नई डाक-टिकट भी जारी करते हैं।
इस पर्व से जुड़े विभिन्न पहलुओं पर रिसर्च करने के लिए प्रत्येक वर्ष IRC आयोजित की जाती है, जिसमें अनेक देशों के विद्वान भाग लेते हैं। अब तक कनाडा, बेल्जियम, चीन, नीदरलैंड आदि कई देश इस कान्फ़्रेन्स का प्रतिनिधित्व करने का श्रेय हासिल कर चुके हैं। इस कान्फ्रेंस के सम्मान में, 1971, में इन्डोनेशिया ने भगवान श्रीराम- जानकी एवं श्रीराम को धनुष व स्वर्ण हिरण के सहित दर्शाते हुए दो डाक-टिकटों का सेट ज़ारी किया था।


1999 में, केथोलिक पोप जब दीवाली के दिन भारत आए, तो इस पर्व की महिमा और गरिमा को देखकर इतना मंत्रमुग्ध हो गए कि उन्होंने अपने एक गिरिजाघर में विशाल समारोह आयोजित करवाया। उस समारोह में गिरिजाघर को दीयों से सजाया गया और पोप ने अपने माथे पर तिलक लगाकर, इस पर्व की विशेषता बताते हुए, सबको सम्बोधित किया। इन सब तथ्यों के कारण ही आज यह पर्व सिर्फ दीवाली न रहकर 'ग्लोबल दीवाली' बन गया है।


चलिए, अब बाक़ी की शुभकामनाएं ले लें... जो विशेषकर भारतवासियों के लिए हैं, जानने के लिए पढ़िए अक्तूबर माह की अखण्ड-ज्ञान मासिक पत्रिका...

Need to read such articles? Subscribe Today