निद्रा- एक रहस्यमयी विज्ञान!

इसीलिए, हम इस लेख में सोने का रहस्यमयी विज्ञान लेकर आए हैं। पूरे दिन में कौन सा समय सोने के लिए सबसे सही है? उम्र के अनुसार कितने घंटे सोना उपयुक्त है? क्या दिशा और दशा का भी सोने पर प्रभाव पड़ता है? इन सभी बिंदुओं पर आइए अब विस्तारपूर्वक चिंतन करते हैं...
...

कितने घंटे सोना अनिवार्य है?

शरीर के लिए भोजन जितना ज़रूरी है, उतना ही नींद लेना भी अनिवार्य है। अच्छी नींद शरीर को पर्याप्त ऊर्जा देती है और दिमाग को शांत रखने में मददगार होती है।


कहा जाता है, अंग्रेज़ हमारे क्रांतिकारियों को जेल में डालकर प्रताड़ित करते थे। उस प्रताड़ना का एक तरीका यह भी था कि उन्हें सोने नहीं दिया जाता था। इससे उनकी मृत्यु समय से पहले हो जाती थी। आज तो कम सोकर स्वेच्छा से हम यह कहर स्वयं पर बरसा रहे हैं।


तो अब प्रश्न उठता है कि हर आयु के वर्ग के लिए कितने घंटे सोना आवश्यक है? इससे जुड़ी एक रिपोर्ट स्लीप हेल्थ जर्नल में प्रकाशित हुई। इसमें नेशनल स्लीप फाउंडेशन ने 18 प्रमुख चिकित्सा वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं के साथ मिलकर, 300 से अधिक नींद अध्ययनों की समीक्षा की। रिपोर्ट के अनुसार हर आयु वर्ग के लिए पर्याप्त नींद की अवधि कुछ इस प्रकार है-


क्रमांक  वर्ग          उम्र       नींद अवधि (प्रतिदिन)


1.  नवजात शिशु    0-3 महीने       14-17 घंटे


2.   शिशु               -              -


3.   छोटे बच्चे        -              -


4.    बच्चे              -              -


5.   बड़े बच्चे         6-13 साल   9 -11 घंटे


6.    किशोर           -              -


7.    युवा               -              -

  
8.    वयस्क          26-64  साल   7 -9  घंटे

       
9.    बुज़ुर्ग             65+ साल   7 -8 घंटे


इस समीक्षा के अनुसार हर वर्ग के वर्ग के लोगों के लिए कम से कम  कितना सोना आवश्यक है?... किस समय सोना सबसे उपयुक्त है... सोने की दिशा और सोते हुए हमारे शरीर की दशा क्या होनी चाहिए, सम्पूर्णतः जानने के लिए पढ़िए अगस्त'19 माह की हिन्दी अखण्ड ज्ञान मासिक पत्रिका।

Need to read such articles? Subscribe Today